“लक्ष्य एजुकेशनल वेल्फेयर सोसाइटी” संस्था उन जरूरतमंद युवाओं के  लिए समर्पित है, जो अपने करियर की योजना सही तरीके से बनाना चाहते हैं, लेकिन वित्तीय सहायता की कमी या आर्थिक बाधाओं का सामना, या सही करियर ऑप्शन न समझ पाने के कारण अपने पैरों पर खड़े होने में असमर्थ हैं।

संस्था उन ज़रूरतमन्द युवक युवतियों को समर्पित है जो हमारे “3E Concept (Education, Employment & Empowerment) का उपयोग करके अपने लक्ष्य को हासिल करना चाहते हैं। "लक्ष्य संस्था" मात्र इस तथ्य पर विश्वास नहीं करती कि मात्र शिक्षा प्रदान करना ही बेरोजगारी दर में बदलाव लाने के लिए पर्याप्त है अपितु हमारा मानना ​​है कि एक योजनाबद्ध और अनुशासित तरीके से छात्रों का सही मार्गदर्शन और कुशल बनाना, न केवल ज्ञान प्रदान करता है, बल्कि युवाओं की क्षमताओं, कौशल और दृष्टिकोण को भी विकसित करता है, ताकि वे अपने आसपास के अवसरों को हासिल करने और उन्हें समझने में सक्षम हो सकें।

एक संस्था के रूप में, हमारा मानना ​​है कि समाज में समानता लाना अनिवार्य है। यह समाज का, एक सभ्यता एवं एक राष्ट्र के रूप में आगे बढ़ने की दिशा में आवश्यक पहला कदम है। इस तरह की समानता केवल तभी मौजूद होगी जब ज़रूरतमन्द खासकर ग्रामीण भारत के लोगों को उसी तरह के समान अवसर उपलब्ध हों जो आर्थिक रूप से मजबूत एवं शहरी विकसित क्षेत्रो के लोगों को होते हैं। इसके बाद ही दोनों भारत के बीच का अंतर कम होगा, एवं विकासशील भारत से विकसित भारत का उदय होगा एवं इसका पहला चरण ज़रूरतमन्द युवाओं का कौशल विकास करके उन्हे रोजगार या स्वरोजगार के लिए हर तरह कि सुविधाओं से लैस किया जाए।